दिल्ली: एम्स कैंपस में बनेगा 3 हजार बेड का एक और नया अस्पताल, DDA ने दी प्रोजेक्ट को मंजूरी

[ad_1]

 

नई दिल्ली. मोदी सरकार (Modi Government) दिल्ली एम्स कैंपस के अखिल भारतीय आयु्र्विज्ञान संस्थान (Delhi AIIMS) को विश्वस्तरीय अस्पताल (World Class Hospital) बनाने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम उठाया है. दिल्ली विकास प्राधिकरण (DDA) ने शुक्रवार को ही एम्स परिसर में 3000 हजार बेड का एक और नया अस्पताल बनाने की मंजूरी दी है.

दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल (Anil Baijal) की अध्यक्षता में इस प्रोजेक्ट को मंजूरी दी गई. बता दें कि इस बैठक में एलजी के अलावा एम्स, डीडीए, दिल्ली सरकार और नीति आयोग के अधिकारी मौजूद रहे.

डीडीए ने शुक्रवार को एम्स कैंपस में वर्ल्ड क्लास मेडिकल यूनिवर्सिटी के रीडेवलपमेंट के लिए 79.73 हेक्टेयर क्षेत्र के प्रस्ताव को मंजूरी दी है. दिल्ली के मास्टर प्लान 2021 के अनुसार पूरे परिसर के लिए यूनिफाइ़ड डेवलपमेंट बनाने की भी मंजूरी दी गई.

दिल्ली: एम्स कैंपस में बनेगा 3 हजार बेड का एक और नया अस्पताल, DDA ने दी प्रोजेक्ट को मंजूरी

 

Delhi AIIMS: यह योजना पिछले कई सालों तक कागजों में ही सिमटी थी.

एम्स कैंपस में बनेगा 3 हजार का एक और नया अस्पताल
बता दें कि डीडीए की पिछली बैठक में दिल्ली के अलग अलग विभागों से मिलने वाले गैर आपत्ति प्रमाण पत्र को लेकर सवाल उठे थे. बैठक में बताया गया था कि एम्स के मास्टर प्लान को पूरा करने के लिए दिल्ली सरकार और डीडीए की ओर से एक-एक वरिष्ठ अधिकारी को तैनात किया गया है. इन अधिकारियों से वर्तमान स्थिति को लेकर उपराज्यपाल ने जानकारी हासिल की थी. उस समय एलजी ने निर्देश दिए ते कि एम्स के इस प्रोजेक्ट में किसी भी प्रकार की देरी नहीं होनी चाहिए.

ये भी पढ़ें:

Russia expelled from FIFA World Cup, banned from international competitions
 

विश्व स्तरीय मेडिकल यूनिवर्सिटी बनाने की योजना पुरानी, अब बनेगी 

गौरतलब है कि दिल्ली एम्स ने कई साल पहले ही मास्टर प्लान तैयार कर एक विश्व स्तरीय मेडिकल यूनिवर्सिटी बनाने की योजना बनाई थी. यह योजना पिछले कई सालों तक कागजों में ही सिमटी थी, जिसे अब मोदी सरकार ने जमीन पर उतारा है. इस प्रोजेक्ट के तैयार हो जाने के बाद एम्स का परिसर और उसके आसपास के क्षेत्र से लेकर सफदरजंग अस्पताल और ट्रामा सेंटर तक पूरा एक परिसर हो जाएगा. पहले ही एम्स और ट्रामा सेंटर के बीच एक सुरंग शुरू हो चुकी है, जिसका इस्तेमाल दोनों अस्पतालों के बीच मरीज और स्टाफ फिलहाल कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें:

One Putin move and behold: West’s unity tightens overnight
 

Tags:

[ad_2]

Source link

Previous articleMoscow: UN unloads on isolated Russia for Ukraine invasion
Next articleUP Election Result: योगी कैबिनेट की कवायद तेज, आगरा से बेबी रानी मौर्या समेत रेस में हैं ये नाम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here